सदिश राशि एवं अदिश राशियाँ - vector and scalar quantity in hindi, वेक्टर परिभाषा in hindi

Scalar and vector quantity in hindi अदिश एवं सदिश राशियाँ [वेक्टर परिभाषा in hindi]

सदिश (vector quantity in hindi) एवं अदिश (scalar quantity in hindi) राशियों को पढ़ने से पहले हमें राशि अथवा भौतिक राशि के बारे में पता होना चाहिए।

भौतिक राशि :-  सामान्य शब्दों में वे सभी राशियाँ जिनको नापा जा सकता है भौतिक राशियाँ कहलाती है।
 या ये कहें जिस राशि का कोई मान होता है अथवा जिसका कोई मात्रक होता है वह भौतिक राशियाँ कहलाती है।

         किसी भी भौतिक राशि को पूर्णतः व्यक्त करने के लिए दिशा की आवश्यकता होती है तथा दिशा के आधार पर भौतिक राशियों को दो भागों में बांटा जाता है।

(1) अदिश राशियाँ या स्केलर राशियाँ (scalar quantity in hindi)

(2) सदिश राशियाँ या वेक्टर राशियाँ (vector quantity in hindi)


(1). अदिश या स्केलर राशियाँ (scalar quantity in Hindi):-

वह भौतिक राशियाँ जिन्हें व्यक्त करने के लिए केवल परिमाण magnitude की आवश्यकता होती है direction दिशा कि नहीं अदिश राशियाँ कहलाती है।
 उदाहरण के लिए दूरी, चाल, द्रव्यमान, समय, कार्य, ऊर्जा, ताप, आदि।




(2). सदिश राशियाँ या वेक्टर राशियाँ (vector Quantity in  Hindi ):- वेक्टर परिभाषा in hindi

वेक्टर परिभाषा in hindi :- वह भौतिक राशियाँ जिन्हें व्यक्त करने के लिए परिमाण व दिशा दोनों की आवश्यकता होती है सदिश राशियाँ कहलाती है।
उदाहरण के लिए विस्थापन, वेग, त्वरण, बल, रेखीय, संवेग, बल आघूर्ण आदि।

  यदि कोई व्यक्ति 10 km की दूरी तय करता है तो इसमें 10 माप है एवं KM मात्रक लेकिन अगर यह कहा जाए कि कोई व्यक्ति 10 km की दूरी दक्षिण दिशा की तरफ तय करता है  तो पहले वाली स्थिति में 10 किलोमीटर दूरी है तथा दूसरी स्थिति में 10 किलोमीटर विस्थापन है जिसमें एक अदिश राशि है एवं दूसरी सदिश राशि है क्योंकि उसमें दिशा का बोध हुआ है।

   लेकिन कुछ भौतिक राशियाँ ऐसी भी हैं जिनमें दिशा के बारे में बताया जाता है परंतु फिर भी वे सदिश राशि नहीं होती ।

   उदाहरण के लिए विद्युत धारा इसमें दिशा का ज्ञान होता है लेकिन फिर भी इसे सदिश राशि नहीं कहा जाता है तो इसका अर्थ यह हुआ कि सदिश राशि के लिए परिमाण एवं दिशा के अलावा किसी अन्य चीज जिसकी आवश्यकता है सदिश राशि की पूर्ण परिभाषा इस प्रकार है:-


वे भौतिक राशियाँ जिनमें परिमाण एवं दिशा दोनों होते हैं तथा जो vector के योग के नियमों का पालन करती है सदिश राशियाँ कहलाती है।


The physical quantities which content magnitude and direction both and also which obey law of vector addition are called vector quantities.

सदिश राशियों का निरूपण (Representation of vectors)

वेक्टर परिभाषा in hindi के बाद किसी भी सदिश राशि को लिखने के लिए उसके ऊपर तीर का निशान लगा देते हैं  ग्राफीय निरूपण में सदिश राशि को तीर द्वारा व्यक्त किया जाता है।

         तीर की लंबाई उस राशि के परिमाण को तथा नोक उस राशि की दिशा को व्यक्त करती है। जहाँ से vector शुरू होता है उसे प्रारंभिक बिंदु (Initial Point) या पुच्छ (Tail) तथा जिस बिंदु पर वह समाप्त होता है उसे शीर्ष (Head)  या Terminal Point कहते है।


Vectors and scalar quantity
Vector Representation
➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖
यह भी पढ़े


➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖



Tag:- वेक्टर परिभाषा in hindivector and scalar quantity in hindi, vector and scalar, सदिश राशि, अदिश राशि, Representation of vector, vector analysis, vector quantity and scalar quantity difference, vector quantity and scalar quantity examples, vector quantity and scalar quantity in hindi, vector quantity and magnitude, vector quantity class 11, vector quantity definition, vector quantity example, vector quantity explain in hindi, vector quantity graphically, vector quantity in physics, what is vector quantity in hindi,vector quantity in hindi, scalar and vector quantity in hindi,

Post a comment