PM Narendra Modi प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की परीक्षा पर चर्चा / Narendra modi speech with student

20 जनवरी 2020 परीक्षा पर चर्चा : माननीय प्रधानमंत्री महोदय श्रीमान नरेंद्र मोदी द्वारा प्रदान किए गए टिप्स :


  • जानने की इच्छा रखिए।
  • प्रतिदिन 10 नए शब्द सीखिए।
  • चुनौतियों के लिए तैयार रहिए ।
  • राष्ट्र के लिए हमारे कुछ कर्तव्य है।




 ● परीक्षा में प्राप्त अंक जिंदगी नहीं है।

● परिस्थितियों से प्रभावित नहीं होना चाहिए।

● पढ़ाई के साथ-साथ खेलकूद व अन्य पाठ्यतर गतिविधियां भी आवश्यक है।




 ● नई तकनीक के लिए तैयार रहिए लेकिन तकनीक पर आश्रित मत रहिए।
 ● परश्यू करना चाहिए प्रेशर नहीं करना चाहिए।
 ● विद्यार्थियों में खुलापन होना चाहिए विद्यार्थी अपने गुरुजनों और अभिभावकों को छोटी-छोटी समस्याएं भी शेयर करें ऐसी स्थिति होनी चाहिए।





 ● व्यक्ति के अंदर की क्षमता को प्रेरित करना चाहिए।

 ● प्रतिदिन 10 मिनट परिजनों के साथ बैठिए।

 ● क्षमता से अधिक किसी पर कुछ नहीं थोपना चाहिए।




  •  ●सदैव नवीन ज्ञान प्राप्त करने हेतु तैयार रहना चाहिए।
  •  ● परीक्षा जिंदगी नहीं है जिंदगी में परीक्षा एक मुकाम है।।
  •  ● प्रकृति के साथ संघर्ष टालना चाहिए प्रकृति के साथ तालमेल बनाकर के जीवन जीना चाहिए।





 ● जीवन की सफलता के लिए सिर्फ एक ही रास्ता नहीं है अनेक रास्ते हैं।

 ● रात को हल्का भोजन लेना चाहिए।

 ● विद्यार्थियों का अवसर प्रदान करने चाहिए।

 ● कोई कार्य छोटा बड़ा नहीं होता जीवन में प्रत्येक आवश्यक कार्य महत्वपूर्ण होता है।



 ● अपनी जिम्मेदारी को समझना चाहिए।





 ● डायरी मेंटेन करनी चाहिए।




 ● अध्ययन के लिए श्रेष्ठ समय जल्दी सवेरे सूर्योदय से पूर्व का होता है इसलिए गहरी नींद के बाद सुबह जल्दी 4:00 बजे के आसपास उठना चाहिए ; फिर भी विद्यार्थियों को उनकी सुविधा के समय के अनुसार पढ़ाई करनी चाहिए।


  •  ● मन से असफलता विफलता के भय को दूर करके सफलता के लिए चुनौती स्वीकार करना चाहिए।
  •  ● तनाव परीक्षा का नहीं होता है तनाव आकांक्षा का होता है तनाव पूर्वाग्रह का होता है अपने आप को कैरियर से जोड़ने के कारण तनाव होता है।
  •  ● जीवन में परीक्षा को बोझ नहीं बनने देना चाहिए  परीक्षा कक्ष में  जाने के पश्चात  आत्मविश्वास जाग्रत करना चाहिए प्रश्न पत्र मिलने के बाद सहज हो करके कंफर्ट जोन में आकर के सरल प्रश्नों के उत्तर देना प्रारंभ करना चाहिए।



 ● अपने सामर्थ्य को जानना चाहिए।

 ● खुद को जानना बड़ा मुश्किल होता है इसलिए खुद के साथ तारतम्य बनाना सीखना चाहिए।


 ● बहानेबाजी से बचना चाहिए।

 ● ताउम्र सीखते रहना चाहिए।

 ● बनने के सपनों में निराशा का भाव उत्पन्न होता है इसलिए कुछ करने का सपना देखना चाहिए।

 ●संतोष और विश्वास में तारतम्य होना चाहिए।

 ● आने वाला समय हिंदुस्तान का है।



20 January 2020 Examination Discussion: Tips provided by Hon'ble Prime Minister Mr. Narendra Modi: 

 ● wish to know.

 ● Learn 10 new words every day.

 ● Be ready for challenges.

 ● We have some duties for the nation.

 ● marks obtained in exam is not life.

 ● should not be affected by circumstances.

 ● Along with studies, sports and other extra-curricular activities are also necessary.

  ● Be ready for new technology but do not depend on technology.

  ● Should not pressurize.


PM Narendra Modi  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की परीक्षा पर चर्चा / Narendra modi speech with student


  ● There should be openness in the students. Students should also share small problems with their gurus and parents.

  ● Motivate the potential within the person.

  ● Sit with family for 10 minutes every day.

  ● Nothing should be imposed on anyone over capacity.

  ● Always be ready to acquire new knowledge.

  ● Exam is not life, life is a test.

  ● Struggle with nature should be avoided by living in harmony with nature

  ● There is not only one way to the success of life, there are many paths

  ● Eat light at night.

  ● Provide opportunities for students.

  ● No task is small, every important work is important in life.

  ● must understand their responsibility.

  ● Maintain a diary.

  ● The best time to study is early in the morning before sunrise, so after deep sleep one should wake up early in the morning around 4:00 pm;  Still students should study according to their time of convenience.

  ● Failure from the mind should overcome the fear of failure and accept the challenge for success
  ● Stress is not of stress; stress is of aspiration; stress is of prejudice; stress is due to attaching oneself to career

  ● Life should not allow the examination to become a burden, after going to the examination hall, you should wake up confidently after getting the question paper, you should come to the comfort zone and start answering simple questions.

  ● Know your potential

  ● It is very difficult to know oneself, so one must learn to relate with oneself

  ● Avoid excuses.

  ● You should keep learning.

  ● There is a feeling of despair in dreams of becoming, therefore one should dream of doing something.

  ● Satisfaction and trust must be consistent.



➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖
यह भी पढ़े


➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖

1 Comments

Post a comment